1857 ke Gūjara śahīda: Bhāratīya itihāsa kā śānadāra adhyāya

Front Cover
Cau. Jānendra Siṃha Bhaḍānā, 1984 - Gojars - 96 pages
0 Reviews
Contribution of Gujars to the 1857 Indian freedom struggle.

From inside the book

What people are saying - Write a review

We haven't found any reviews in the usual places.

Contents

प्रथम स्वाधीनता संखाम का मसोहाराजा विजयसिंह 2428
3
गुजरी के बारे में प्रधान मनी व इतिहासकारों का मत 8 7 तोव 9
9
के संदर्भ ग्रबथ
96

Common terms and phrases

अग्रेज अधिकार अन्य अपनी अपने अब अंग्रेजों आदि इतिहास इन इस इसी उन उनके उन्होंने उस उसके उसे एक और कर दिया करके करते करने कश्मीर क्षेत्र का कान्ति किया किसी की कुछ के के गुजर के बारे के लिए के लिये के साथ को गये गांव गांवों गुजर गुजरात गुजरी गुजरी के गुर्जर गुर्जरों जब जमीन जा जाति जिला जिस जी जो तक तथा तरह तो था थी थे दिया था दी गई देश देशभक्त नहीं नाम ने नेता पटेल पर पंजाब प्रकार प्रदेश पाकिस्तान पास पुस्तक बहादुर बहादुर शाह बहुत बादशाह भाई भारत भारतीय भी महान मुगल मेरठ में मैं यदि यह या ये रहा रहे राजस्थान राज्य राजा राव लिखा लिया लेकिन लेखक वर्ष वह वहां वे शहीद शहीदों श्री शाह सन् सब सम्राट सरकार सहारनपुर संग्राम स्वाधीनता से सेना सैनिक हरियाणा ही हुआ हुई हुए हुकूमत है है कि हैं हो गया होने

Bibliographic information