Marriage Songs from Bhojpuri Region: Supplement

Front Cover
Kitab Mahal, 1979 - Folk songs, Bhojpuri - 139 pages
0 Reviews

From inside the book

What people are saying - Write a review

We haven't found any reviews in the usual places.

Other editions - View all

Common terms and phrases

अपनी अपने अब अरे अाँगन में आई आते आपके आम आये इस उस एक ओर कर कहाँ का कि किन्तु किया किसका किसके किसने की के पास के लिये के हाथ कैसे को कोहबर कौन क्या क्यों गंगा गई गया गये गाय गीत गीतों गौरी घर चंदन चंदन चौकी चम्पा चल जनकपुर जब जैसे जो डाल तुम तुमने तुम्हारी तेरी तेरे तो दही दहेज दिया दी दुलारी दूल्हे देंगे दो द्वार नहीं ने पंडित पर पान पानी पिता पीहर फुलवारी फूल बन बरात बहिन बहू बिना बेटी बेटे बैठी बोला ब्राह्मण भइया भर भाई भी भोजपुरी मंडप में महादेव माँ माता मालिन मुझे में मेरा मेरी मेरे मैं यह यहाँ रहा राजा रात राम रे लगा लाख लिया लो वर वह वाले सब विवाह शिव शिशुपाल समधी साड़ी साथ सास सिंदूर सीता सुन्दर से सोने हम हमारा हमारी हमारे हल्दी ही हुआ हुए हे है और है कि हैं हो

Bibliographic information