Puranadaradāsa

Front Cover
Sāhitya Akādemī, 1991 - Poets, Kannada - 47 pages
On the life and works of Purandaradāsa, 1484-1564, Kannada saint poet; translated from original Kannada monograph.

From inside the book

What people are saying - Write a review

We haven't found any reviews in the usual places.

Contents

Section 1
13
Section 2
41
Section 3
49

Common terms and phrases

अणु अपनी अपने अब असम इन इस इस पद इसका इसी उक्ति उनका उनकी उनके उन्होंने उस उसके उसे एक कभी कर करके करता करते है करने करनेवाले कहकर कहते का किया है की के लिए को क्या क्रिया है गये जब जा जाता है जाते जीवन जैसे जो टेक तक तब तरह तुम तुमने तो था थी थे दास जी देख देवता द्वारा ध्यान नहीं नहीं है नाम नारद ने पति पद में पर पर भी परम परमात्मा पाम पुरन्दर पुरन्दर/दास पुरन्दर/दास जी पुल प्रकार प्रशंसा प्रस्तुत बन बने बह बहुत ही भक्त भक्ति भगवान के भी मन मुझे मेरी मैं यम यशोदा यह यहाँ यों रहा विष्णु वे व्यक्त श्री श्रीकृष्ण श्रीहरि संगीत सकता सकते है समय साहित्य से सेब सेवा स्पष्ट स्वामी हम हर हरि हरिदास ही है हुआ हुए हे है और है कि है की हैं हो होकर होगा होता है होते होने

Bibliographic information